देवभूमि उत्तराखंड के बारे में कुछ सामान्य तथा कुछ रोचक तथ्य

आइए, जानते हैं  देवभूमि उत्तराखंड के बारे में कुछ सामान्य तथा रोचक तथ्य:

उत्तराखंड 9 नवम्बर 2000 को भारत का 27 वां राज्य  बना.  इससे पहले यह उत्तर प्रदेश राज्य का हिस्सा था. उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून है.

उत्तराखंड प्रमुखतः दो  क्षेत्रों में विभाजित है – गढ़वाल और कुमाऊं

गढ़वाल क्षेत्र में 7 तथा कुमाऊं में 6 जिले हैं:

गढ़वाल क्षेत्र के जिले हैं – देहरादून, हरिद्वार, चमोली, रुद्रप्रयाग, टेहरी गढ़वाल, उत्तरकाशी, एवं पौड़ी गढ़वाल

कुमायुं  क्षेत्र के जिले हैं – नैनीताल, अल्मोड़ा, उधमसिंह नगर, चंपावत, पिथोरागढ़ एवं  बागेश्वर

उत्तराखंड की सीमा दो राज्यों से लगती है – उत्तर में हिमाचल  तथा दक्षिण में उत्तर प्रदेश.

अगर अंतर्राष्ट्रीय  सीमा की बात करें तो इसके उत्तर-पूर्व में चीन तथा दक्षिण-पूर्व में नेपाल है.

उत्तराखंड की साक्षरता  राष्ट्रीय औसत से अधिक है. अर्थात 2011  के जनसंख्या के आंकड़ों के अनुसार हमारी राष्ट्रीय साक्षरता दर 74.04 प्रतिशत  है जबकि उत्तराखंड  की साक्षरता दर  79.63  प्रतिशत है.

 
उत्तराखंड एक प्रगतिशील राज्य है  तथा यहाँ न तो स्त्रियों के लिए परदा प्रथा है तथा न ही यहाँ दहेज़ प्रथा का चलन है.  वास्तव में यहाँ लिंग असमानता न के बराबर है.

राज्य  उत्कृष्ट मानव संसाधनों की प्रचुरता के रूप में उभर रहा है ; इसका प्रत्यक्ष उदाहरण वर्तमान सरकार में  भारतीय थल सेना के प्रमुख  विपिन रावत, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, प्रधानमंत्री के सचिव भास्कर खुलबे इत्यादि हैं.

भारत की दो सबसे महत्त्वपूर्ण नदियाँ गंगा और यमुना इसी राज्य से  उदगमित होती हैं.

उत्तराखंड जैव विविधता के साथ साथ ही 175 दुर्लभ प्रजाति के सुगंधित और औषधीय पौधों से भी समृद्ध हैं.

उत्तराखंड चूना पत्थर, संगमरमर, राक फास्फेट, डोलोमाइट, तांबा , मैग्नेसाइट, , जिप्सम, जैसी खनिज संपदा से समृद्ध है। इस पहाड़ी राज्य की बारहमासी नदियाँ जलविद्युत का  महत्वपूर्ण स्रोत हैं.

सबसे पुराना  राष्ट्रीय उद्यान :  नैनीताल जिले का जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान भारत का सबसे पुराना राष्ट्रीय उद्यान है जो 1936 में बाघों के संरक्षण के लिए स्थापित किया गया था.  

भारत की दूसरी सबसे ऊँची चोटी:  नंदादेवी उत्तराखंड की सबसे ऊँची चोटी है जिसकी ऊँचाई 7816 मीटर है। कंचनजंगा के बाद यह भारत की दूसरी सबसे ऊंची चोटी भी है. 
भारत में सबसे ऊँचा बांध:  टिहरी गढ़वाल के पास भागीरथी नदी पर बना टिहरी बांध भारत का सबसे ऊँचा और दुनिया  के ऊँचे बांधों  में  से एक है.  इस बांध से पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, जम्मू और कश्मीर, राजस्थान आदि को  बिजली वितरित की जाती है। 
उत्तराखंड भारत का एकमात्र ऐसा राज्य है जिसकी आधिकारिक भाषा सं